स्पाइवेयर क्या है? (Spyware In Hindi)

Spyware के संबंधी यदि आप संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो मैं आपको बता दू के इस लेख में हमने स्पाइवेयर (Spyware In Hindi) से संबंधी पूर्ण जानकारी सरल शब्दों में आपके साथ साझा करने की प्रयास की है। अत: आप इस लेख को अंत तक पढ़े, और Spyware के बारे मे जाने।

Spyware In Hindi (स्पाइवेयर क्या है)

Spyware एक प्रकार का Software होता है, जिसका उद्देश किसी व्यक्ति या संगठन के बारे में निजी जानकारी चुराने का होता है ताकि वो किसी व्यक्ति या संगठन की निजी जानकारियां चुरा कर Spyware इंस्टॉल करने वाले को भेज पाए, और Spyware इंस्टॉल करने वाला उस व्यक्ति या संगठन को किसी रूप से भी नुकसान पहुंचा पाए।

Spyware Types In Hindi (स्पाइवेयर के प्रकार)

Spyware को मुख्यत: चार प्रकार होते है, जो Adware Spyware, System Monitors Spyware, Tracking Cookies Spyware एवं Trojans Spyware है।

Adware Spyware

वैसे Spyware जो यूजर की ऑनलाइन ट्रैकिंग करता है, और उन्हें Targeted Pop-up Advertisement दिखाता है, उसे Adware Spyware कहते है।

System Monitors Spyware

वैसे Spyware जो किसी व्यक्ति की निजी जानकारियां (जैसे — ऑनलाइन लेनदेन में उपयोग किए जाने वाले पासवर्ड, आदि) गुप्त रूप से पता लगता एवं उसे संचारित करता है, उसे System Monitors Spyware कहते है।

Tracking Cookies Spyware

वैसे Spyware जो Uninformed Small Text File को यूजर के कंप्यूटर या मोबाइल में डाउनलोड करके यूजर के पसंद को किसी खास वेबसाइट पर Preserve करता है, उसे Tracking Cookies Spyware कहते है।

Trojans Spyware

वैसे Spyware जिनका प्रयोग संवेदनशील जानकारी, दुर्भावनापूर्ण प्रोग्राम इंस्टॉल करना, कंप्यूटर को हाईजैक करना, या अतिरिक्त कंप्यूटर या नेटवर्क से समझौता करने का होता है, उसे Trojans Spyware कहते है।

About Spyware In Hindi (स्पाइवेयर के बारे में)

Spyware का उपयोग ज्यादातर Information को चुराने और Web पर इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की गतिविधियों को संग्रहीत करने और इंटरनेट Users को Pop-up Advertisement दिखाने के लिए किया जाता है।

Keylogger एक Spyware जिसे Shared Computer, Corporate Computer या Public Computer पर उसके Owner द्वारा जानबूझकर इंस्टॉल किया जाता है, ताकि इसके Users की निगरानी की जा सके।

Spyware History In Hindi (स्पाइवेयर का इतिहास)

Spyware टर्म का इस्तेमाल पहली बार 16 अक्टूबर, 1995 को किया गया था, उसके बाद 2000 AD के शुरुआत में Zones Lab के Founder “Gregor Freund” ने इस Term का प्रयोग ZoneAlarm Personal Firewall के Press Release में किया था।

इन्हे भी पढ़े: Pegasus Spyware In Hindi

ऊपर दी गई जानकारियां पढ़ने के बाद आपको स्पाइवेयर (Spyware In Hindi) के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी, यदि इस लेख के पढ़ने के बाद आपके पास इस लेख से संबंधी कोई प्रश्न है, तो आप इस लेख के नीचे कमेंट करके अवश्य पूछे, हम जल्द से जल्द आपके प्रश्न का उत्तर देने का प्रयास करेंगे।

स्पाइवेयर क्या है

Post a Comment

0 Comments